Realme 2 Pro Full Review In Hindi

Realme 2 Pro Full Review In Hindi


चीनी स्मार्टफोन निर्माता कंपनियों की नई रणनीति यही है कि पहले सब-ब्रांड बनाया जाए फिर युवा ग्राहकों को लुभाया जाए। Huawei का Honor ब्रांड, लेनोवो का ज़ूक ब्रांड और सबसे हाल में Xiaomi का Poco ब्रांड। इसी राह पर चलते हुए Oppo ने Realme को मार्केट में उतारा। इन सारे ब्रांड की एक अहम कोशिश रही है, आक्रामक कीमत में दमदार स्पेसिफिकेशन।

Realme अब एक अलग कंपनी है। अब Realme 2 Pro को लॉन्च किया गया है जिसके बारे में Realme 2 के लॉन्च के दौरान ही बताया गया  था। Realme 2 Pro स्मार्टफोन में 'प्रो' नाम का इस्तेमाल ही इस स्मार्टफोन के पावरफुल हार्डवेयर की ओर इशारा है। इस फोन के ज़रिए कंपनी स्टूडेंट्स और युवाओं को लुभाना चाहती है। कागज़ी तौर पर हैंडसेट बेहद ही दमदार लगता है। रियल वर्ल्ड में इसकी परफॉर्मेंस कैसी है? आइए जानते हैं....

Realme 2 Pro डिज़ाइन

Realme 2 Pro Full Review In Hindi


Realme 2 Pro हाथों में बड़ा होने का एहसास देता है। हमें इस फोन को एक हाथ से इस्तेमाल करने में दिक्कत हुई, लेकिन यह बहुत भारी नहीं है। 8.5 मिलीमीटर की मोटाई को चौड़ा ही माना जाएगा, लेकिन घुमावदार पॉलीकार्बोनेट किनारों के कारण ग्रिप अच्छी रहती है। फोन के पिछले हिस्से पर लेमिनेशन के कई लेयर हैं, जो इसके ग्लास पैनल होने का एहसास देता है। रियलमी की जुबान में कहें तो “क्रिस्टल जैसा ड्यूड्रॉप” इफेक्ट। इस पर ऊंगलियों के निशान आसानी से पड़ जाते हैं।

फोन में 6.3 इंच का फुल-एचडी+ डिस्प्ले गोरिल्ला ग्लास 3 प्रोटेक्शन के साथ आता है। चारो ओर बेज़ल बेहद ही स्लिम हैं। हाथों से छूने पर किनारे थोड़े खुरदरे से लगते हैं, खासकर पहले से दिए गए स्क्रीन प्रोटेक्टर के साथ। ‘ड्यूड्रॉप’ नॉच डिज़ाइन धीरे-धीरे चलन में आता जा रहा है। यह बेहद ही कम जगह की खपत करता है और दिखने में भी अच्छा लगता है। कम जगह होने के बावजूद इसमें फ्रंट कैमरे के लिए जगह है। कोई नोटिफिकेशन एलईडी नहीं है। ईयरपीस फ्रंट कैमरे से ठीक ऊपर है। सेंसर दायीं तरफ हैं।


पावर और वॉल्यूम बटन फोन के अलग-अलग किनारे पर हैं। इन तक पहुंचने में ऊंगलियों को दिक्कत नहीं होती। सिम ट्रे में दो नैनो सिम और माइक्रोएसडी कार्ड (256 जीबी तक) के लिए अलग-अलग स्लॉट हैं। फोन डुअल 4जी वीओएलटीई को सपोर्ट करता है। लेकिन रिव्यू के लिए वियतनामी यूनिट मिलने के कारण इसकी टेस्टिंग नहीं हो सकी। दो एयरटेल सिम इस्तेमाल करने पर डुअल 4जी ने काम किया। लेकिन VoLTE के लिए कोई टॉगल नहीं था। रियलमी का कहना है कि रिटेल यूनिट में डुअल 4जी वीओएलटीई के लिए सपोर्ट होगा।

निचले हिस्से पर एक स्पीकर ग्रिल, माइक्रो-यूएसबी पोर्ट और 3.5 एमएम हेडफोन सॉकेट है। लैंडस्केप मोड में फोन को पकड़ने पर स्पीकर के ब्लॉक होने की संभावनाएं बढ़ जाती है। आप फोन को दूसरी तरफ फ्लिप करके इससे बच सकते हैं। फिंगरप्रिंट सेंसर पिछले हिस्से पर है। यह तेज़ी से काम करता है।  पिछले हिस्से वाला डुअल कैमरा मॉड्यूल सतह से बाहर उभरा हुआ था। लेकिन इस्तेमाल के दौरान इसके ग्लास पर खरोंच के निशान नहीं पड़े। रिटेल बॉक्स में 10 वॉट चार्जर, माइक्रो-यूएसबी केबल, सिम इजेक्टर टूल, सिलिकॉन कवर और निर्देश पुस्तिका मिलेंगे।

Realme 2 Pro स्पेसिफिकेशन और सॉफ्टवेयर

Realme 2 Pro के स्पेसिफिकेशन बेहद ही दमदार हैं। सभी वेरिएंट में क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 660 प्रोसेसर का इस्तेमाल हुआ है जो एक पावरफुल ऑक्टा-कोर चिपसेट है। 20,000 रुपये से कम के प्राइस रेंज में यह चिपसेट Xiaomi Mi A2 और Vivo V9 Pro में मिलता है। बेंचमार्क स्कोर भी इसके दमदार स्पेसिफिकेशन को वाजिब ठहराते हैं।

रैम और स्टोरेज पर आधारित फोन के तीन वेरिएंट हैं- 4 जीबी रैम के साथ 64 जीबी स्टोरेज, 6 जीबी रैम के साथ 64 जीबी स्टोरेज और 8 जीबी रैम के साथ 128 जीबी स्टोरेज। इसमें एफएम रेडियो या एनएफसी सपोर्ट नहीं है। Realme 2 Pro का टॉप वेरिएंट इस प्राइस रेंज में 8 जीबी रैम के साथ आने वाला पहला फोन है। अन्य स्पेसिफिकेशन में ब्लूटूथ 5, डुअल-बैंड वाई-फाई 802.11एसी, यूएसबी-ओटीजी, जायरोस्कोप, एंबियंट लाइट सेंसर, प्रॉक्सिमिटी सेंसर, कंपास और एक्सेलेरोमीटर शामिल हैं। इसमें एफएम रेडियो या एनएफसी सपोर्ट नहीं है।


Realme 2 Pro एंड्रॉयड 8.1 ओरियो पर आधारित कलरओएस 5.2 पर चलता है। फोन में सितंबर महीने का सिक्योरिटी पैच भी मौजूद था। कलरओएस के लेटेस्ट वर्ज़न में भी नोटिफिकेशन का खारिज करने का टू स्टेप प्रोसेस है जो परेशान करता है। इसके अलावा ओएस काफी पॉलिश्ड है और यूज़र को गेस्चर्स के साथ कस्टमाइज़ेशन के कई विकल्प मिलते हैं। हमारा रिव्यू यूनिट वियतनामी मॉडल था। इसमें कई वियतनामी ऐप पहले से इंस्टॉल थे। भारत में बिकने वाले रिटेल यूनिट में तो ये ऐप नहीं ही रहेंगे, लेकिन कोई अन्य ऐप पहले से होंगे या नहीं, इसके बारे में कुछ नहीं कहा जा सकता।

फिंगरप्रिंट सेंसर के अलावा फोन में फेस अनलॉक भी है। यह तेज़ी से आपकी पहचान करता है। आंखें खुली होने पर ही काम करता है, यानी यह बेहद ही सिक्योर है। कम रोशनी में मदद के लिए स्क्रीन लाइट अप हो जाता है। आप चाहें तो ऐप्स और प्राइवेट स्पेस को लॉक करने के लिए भी फेस रिकग्निशन का इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे फोन तो अनलॉक होगा ही।

Realme 2 Pro परफॉर्मेंस, कैमरा और बैटरी लाइफ

हमने रियलमी 2 प्रो को कई दिनों तक इस्तेमाल किया। ईमानदारी के साथ कहें तो हमें कोई शिकायत नहीं है। कलरओएस की कुछ कमियों को छोड़ दिया जाए तो यूआई आमतौर पर स्मूथ है। मल्टीटास्किंग या पावरफुल ग्राफिक्स वाले गेम को लोड करते वक्त हमें कभी स्लो डाउन का एहसास नहीं हुआ। फोन बहुत ज़्यादा गर्म भी नहीं होता। फिंगरप्रिंट सेंसर के आसपास के इलाका थोड़ा गर्म होता है, वो भी लंबे वक्त तक गेम खेलने या कैमरा इस्तेमाल करने के बाद। कॉल क्वालिटी अच्छी है और डायलर ऐप में कॉल रिकॉर्डिंग भी बिल्ट इन है।

Realme 2 Pro में पिछले हिस्से पर 16 मेगापिक्सल का प्राइमरी कैमरा है जो एफ/1.7 अपर्चर वाला है। यह डेलाइट में डिटेल के साथ तस्वीरें कैपचर करता है। लैंडस्केप शॉट में हमें अच्छा डायनमिक रेंज देखने को मिला। छोटे ऑब्जेक्ट भी काफी डिटेल और सटीक कलर्स के साथ आए। वाइड अपर्चर क्लोज अप शॉट में अच्छा बोकेह इफेक्ट लाता है। मूविंग ऑबजेक्ट का क्लियर शॉट पाने में हमें दिक्कत हुई, लेकिन इसके अलावा ऑटोफोकस तेज़ी से काम कर रहा था।

सेकेंडरी 2 मेगापिक्सल का सेंसर इमेज कैपचर प्रोसेस में कोई काम नहीं करता। इसका काम डेप्थ आंकने का है। पोर्ट्रेट मोड में तस्वीरें अच्छी आती हैं। एज डिटेक्शन स्पष्ट है। आर्टिफिशियल लाइटनिंग में भी ऑब्जेक्ट की शार्पनेस स्पष्ट रहती है। आपके पास चुनने के लिए कई लाइटनिंग मोड्स हैं जिनसे अच्छा इफेक्ट मिलता है। कम रोशनी में तस्वीरें थोड़ी ग्रेनी आती हैं। डिटेल भी कम हो जाते हैं, खासकर लैंडस्केप शॉट में। क्लोजअप शॉट में शार्पनेस कम होती है। लेकिन कुल मिलाकर तस्वीरें इस्तेमाल करने योग्य आती हैं।

1080 पिक्सल वाले वीडियो अच्छी क्वालिटी के आते हैं। इलेक्ट्रॉनिक इमेज स्टेबलाइज़ेशन है जो ठीक काम करता है। 4K रिकॉर्डिंग के लिए भी सपोर्ट है। क्वालिटी बेहद ही औसत है और कोई स्टेबलाइज़ेशन नहीं मौज़ूद है। कम रोशनी में शूट किए गए वीडियो ग्रेनी आते हैं।

Realme ने 16 मेगापिक्सल का फ्रंट कैमरा भी दिया है। यह बोकेह इफेक्ट, एचडीआर और स्क्रीन फ्लैश के साथ आता है। इमेज क्वालिटी ठीक-ठाक आती है। डिटेल थोड़े बेहतर हो सकते थे। स्क्रीन फ्लैश बेहद ही कारगर है। लेकिन यह आपके स्किन की टोन गड़बड़ कर देता है। एक स्टीकर्स शूटिंग मोड भी है जिसकी मदद से आप सेल्फी या दूसरों के चेहरे पर अगल-अलग एआर स्टीकर्स लगा पाएंगे।

3500 एमएएच की बैटरी ने आसानी से पूरे दिन तक साथ दिया। हमारे वीडियो लूप टेस्ट में यह 10 घंटे 22 मिनट तक चली जो औसत से थोड़ा बेहतर है। फोन फास्ट चार्जिंग को सपोर्ट नहीं करता है। लेकिन फोन के साथ दिए गए चार्जर ने एक घंटे में बैटरी को 64 प्रतिशत चार्ज कर दिया। शून्य से फुल चार्ज होने में इसे करीब 2 घंटे 20 मिनट का वक्त लगा।

हमारा फैसला

Realme 2 Pro पावरफुल फोन होने के दावे पर खरा उतरता है। हमें लगता है कि यह कई लोगों को लुभाएगा, खासकर इसकी कीमत। फोन का 8 जीबी रैम और 128  जीबी स्टोरेज वेरिएंट 18,990 रुपये का है। देखा जाए तो इसमें Mi A2 या वीवो वी9 प्रो से ज़्यादा अपील दिखती है। ये दोनों ही फोन स्नैपड्रैगन 660 प्रोसेसर के साथ आता है। फोन का शुरुआती वेरिएंट 13,990 रुपये का है। यह Xiaomi Redmi Note 5 Pro , Nokia 6.1 Plus, Motorola One Power, Asus ZenFone Max Pro M1 का 6 जीबी रैम वेरिएंट और Realme 1 के 6 जीबी रैम वेरिएंट को चुनौती देगा।

शार्प और विविड डिस्प्ले, अच्छी बिल्ड क्वालिटी, सॉलिड ऐप और गेमिंग परफॉर्मेंस, Realme 2 Pro के पक्ष में जाते हैं। लो-लाइट फोटोग्राफी और वीडियो परफॉर्मेंस बेहतर हो सकती है। हमारी चाहत है कि रियलमी (और ओप्पो) नोटिफिकेशन को डिसमिस करने के परेशान करने वाले प्रोसेस से छुटकारा पाए।

वैसे, आपको 20,000 रुपये के प्राइस सेगमेंट में आपको एक हरफनमौला फोन की तलाश है तो यह एक बेहतरीन विकल्प है।


Realme 2 Pro


डिज़ाइन   8
डिस्प्ले     8
सॉफ्टवेयर 8
परफॉर्मेंस   8
बैटरी लाइफ 8
कैमरा 8
वैल्यू फॉर मनी 9

0 Comments: